बुरे पल की खिची हुई लकीरें

बुरे पल की खिंची हुई लकीरों ने बांटा इस कदर मेरे अपनों को ही

उस पार तो काफी चले गए, इस पार मैं अकेला ही रह गया

Bure pal ki kheenchi hui lakeero ne

Baanta Iss qadar mere apno ko hi

Uss paar to kaafi chale gaye

Iss paar main akela hi reh gaya